अकबर का प्यारा तोता : अकबर बीरबल की कहानी | Akbar Ka Pyara Tota Akbar Birbal Story In Hindi

एक बार एक बहेलिया बादशाह अकबर के दरबार में आया. उसके पास ना-ना प्रकार के पक्षी थे. उसके पास एक बहुत सुंदर तोता था, जिसे उसने अच्छी-अच्छी बातें बोलनी सिखाई थी. बहेलिये ने बादशाह अकबर ने सामने अपने तोते का यह गुण प्रदर्शित किया. वह तोते से जो भी प्रश्न करता, तोता उसका झट से उत्तर दे देता. उसने तोते से पूछा, “बताओ, यह किसका दरबार है?”

बैल का दूध अकबर बीरबल की कहानी | Milk Of An Ox Akbar Birbal Story In Hindi

बादशाह अकबर का दरबार लगा हुआ था. दरबार में अन्य सभी दरबारी उपस्थित थे, केवल बीरबल को छोड़कर. बीरबल की अनुपस्थिति का लाभ उठाकर कुछ दरबारी उनके विरूद्ध बादशाह के कान भरने लगे. वे कहने लगे, “जहाँपनाह! बीरबल अक्सर दरबार में विलंब से आते है और चालाकीपूर्ण बातों से आपको मना लेते हैं.”

बीरबल की खिचड़ी : अकबर बीरबल की कहानियाँ | Birbal Ki Khichadi Akbar Birbal Story In Hindi

एक रात बादशाह अकबर अपने दरबारियों को साथ लेकर सैर पर निकले. सैर करते हुए वे सभी यमुना नदी के तट पर पहुँच गए. वह ठंड का मौसम था. दिल्ली में भी कड़ाके की ठंड पड़ रही थी. यमुना के सामानांतर टहलते हुए अचानक ही जाने बादशाह अकबर को क्या सूझा कि उन्होंने अपनी एक उंगली यमुना के ठंडे पानी में डाल दी.

लोहे की गर्म सलाखें : अकबर बीरबल की कहानी | Lohe Ki Garm Salakhen Akabr Birbal Story In Hindi

एक बार एक अमीर आदमी ने हसन नामक अपने पड़ोसी को सजा दिलवाने की सोची और उस पर अपने घर से सोने का कीमती हार चुराने का इलज़ाम लगा दिया. यह शिकायत उसके बादशाह अकबर के दरबार तक पहुँचा दी. दरबार में जब मुक़दमा चला, तो अकबर ने उस अमीर आदमी से पूछा, “तुम्हें ऐसा क्यों लगता है कि हसन ने ही तुम्हारे घर से वह कीमती हार चुराया है?”

बीरबल की अक्लमंदी : अकबर बीरबल की कहानियाँ | Birbal Ki Akalmandi Akbar Birbal Story In Hindi

बीरबल की अक्लमंदी और हाज़िरजवाबी के सामने अक्सर दरबार के मंत्रियों को नीचा देखना पड़ता था. इसलिए वे मन ही मन बीरबल से इर्ष्या करते थे. एक मंत्री बादशाह का मुख्य सलाह्कर बनने का इच्छुक था. लेकिन बीरबल के मुख्य सलाहकार के पद पर रहते तक ऐसा होना संभव नहीं था. इसलिए वह हमेशा कोई न कोई युक्ति सोचता रहता, ताकि बीरबल को उस पद से हटाया जा सके.